Latest Online Hindi News

Find all the latest, current & trending news related to business, sports, politics & many more only on Nayaindia ePaper. Read for the Breaking News!


Leave a comment

आईपीएल एलिमिनेटर में राजस्थान के सामने केकेआर के रूप में कड़ी चुनौती

पूर्व चैम्पियन राजस्थान रायल्स आईपीएल के एलिमिनेटर में जब दो बार की विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स से कल उसके घरेलू मैदान ईडन गार्डंस पर खेलेगी तो किसी तरह की कोताही बरतने की कोई गुंजाइश नहीं रहेगी। नाइट राइडर्स ने इस सत्र में अब तक दोनों मैचों में राजल्स को हराया है। पिछले महीने जयपुर में सात विकेट से हराने के बाद एक सप्ताह पहले ईडन गार्डंस पर छह विकेट से मात देकर प्लेआफ में जगह बनाई।

IPL-11

लगातार तीन जीत दर्ज करके केकेआर के हौसले बुलंद है जिसने छठी बार अंतिम चार में जगह बनाई है। दिनेश कार्तिक की अगुवाई वाली टीम ने बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण वाली सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पिछले मैच में टूर्नामेंट का सर्वोच्च स्कोर बनाया। उसके लिये सोने पे सुहागा यह है कि चारों क्वालीफायर में वह अकेली टीम है जिसे अपने घरेलू मैदान पर खेलने का फायदा मिल रहा है। कल का मैच जीतने वाली टीम सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स से दूसरे क्वालीफायर में खेलेगी जो कोलकाता में ही होगा। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2s12get

Advertisements


Leave a comment

प्रियंका चोपड़ा रोहिंग्या शरणार्थी शिविरों के दौरे पर

अभिनेत्री और यूनिसेफ की वैश्विक सद्भावना दूत प्रियंका चोपड़ा रोहिंग्या शरणार्थी शिविरों के दौरे पर हैं। प्रियंका ने सोमवार को अपनी एक तस्वीर ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। इस तस्वीर में वह विमान की खिड़की से बाहर देख रही हैं।

Priyanka Chopra

प्रियंका ने तस्वीर ट्वीट करते हुए कहा, “मैं यूनिसेफ फील्ड विजिट पर रोहिंग्या शरणार्थी शिविरों के दौरे पर हूं। मेरे अनुभवों को साझा करने के लिए मुझे इंस्टाग्राम पर फॉलो करें। बच्चे बेघर हो गए हैं, दुनिया को ख्याल रखने की जरूरत है। हमें ख्याल रखना चाहिए।”प्रियंका (35) पिछले एक दशक से यूनिसेफ के साथ जुड़ी हैं। उन्हें 2010 में बाल अधिकारों के लिए यूनिसेफ का राष्ट्रीय और वैश्विक सद्भावना दूत बनाया गया था। वह पर्यावरण, स्वास्थ्य, शिक्षा और महिला अधिकारों से जुड़े कार्यक्रमों को प्रमोट करती हैं।संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, अगस्त 2017 से लेकर अब तक लगभग 7,00,000 शरणार्थी म्यांमार से पलायन कर बांगलदेश के कॉक्स बाजार पहुंच चुके हैं। @ https://bit.ly/2ID41tl


Leave a comment

भाजपा बन रही है बंगाल में मुख्य विपक्षी!

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों में भारतीय जनता पार्टी दूसरे स्थान पर रही है। हालांकि वह पहले स्थान पर रही तृणमूल कांग्रेस से काफी पीछे है पर उसने कांग्रेस और सीपीएम को बहुत पीछे छोड़ दिया है। अगर तृणमूल के 20 हजार से ज्यादा प्रतिनिधि जीते हैं तो भाजपा के भी पांच हजार से ज्यादा प्रतिनिधि चुनाव जीते हैं। पर कांग्रेस और सीपीएम दोनों दो हजार का आंकड़ा भी नहीं पार कर पाए। यह एक तरह से पड़ोसी राज्य ओड़िशा के पंचायत चुनावों का दोहराव है। वहां भी कांग्रेस को पीछे छोड़ कर भाजपा दूसरे स्थान पर रही। वहां हालांकि बीजू जनता दल से भाजपा का मुकाबला ज्यादा करीबी रहा।

BJP

इससे पहले दो विधानसभा सीटों के उपचुनाव में भी भाजपा ने बहुत शानदार प्रदर्शन किया था और दूसरे स्थान पर रही थी। इस साल जनवरी में पश्चिम बंगाल में उलूबेरिया लोकसभा सीट और नोआपाड़ा विधानसभा सीट के उपचुनाव हुए थे। दोनों सीटों पर तृणमूल कांग्रेस जीती और भाजपा दूसरे स्थान पर रही। सुल्तान अहमद के निधन से खाली हुई उलूबेरिया लोकसभा सीट पर भाजपा को दो लाख 90 हजार वोट मिले, जबकि तीसरे स्थान पर रही सीपीएम को एक लाख 30 हजार वोट मिले। कांग्रेस को सिर्फ 23 हजार वोट मिले और उसके उम्मीदवार की जमानत जब्त हो गई। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें @ https://bit.ly/2rTwBwb


Leave a comment

कर्नाटक का सबसे खर्चीला चुनाव!

कर्नाटक के इस बार के विधानसभा चुनाव में खर्च के सारे रिकार्ड टूट गए हैं। पिछली बार के मुकाबले इस बार कर्नाटक में दोगुने से ज्यादा खर्च हुआ है। यह भी हैरान करने वाला तथ्य है कि पार्टियों के मुकाबले उम्मीदवारों ने इस बार ज्यादा रुपए लुटाए हैं। यह ज्यादा हैरान करने वाला इसलिए है क्योंकि अभी तक देश के कई हिस्सों में लोग नोटबंदी का असर झेल रहे हैं और दूसरे, चुनाव प्रचार के दौरान दो सौ करोड़ रुपए के करीब की जब्ती हुई है।

election

एक गैर सरकारी संस्था के आकलन के मुताबिक इस बार कर्नाटक विधानसभा चुनाव में दस हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च हुआ है। यानी प्रति विधानसभा 50 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च हुआ है। 2013 के विधानसभा चुनाव में करीब पांच हजार करोड़ रुपया खर्च हुआ था। नोटबंदी और काले धन को खत्म कर देने के दावे के बावजूद इस साल खर्च दोगुना होकर दस हजार करोड़ रुपए तक पहुंच गया। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें। @ https://bit.ly/2rMaIxX


Leave a comment

कर्नाटक चुनाव में जीत के लिए भाजपा को बधाई: ममता

तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उसके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बी एस येद्दियुरप्पा को बधाई दी है लेकिन इसके साथ ही कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा है कि यदि जनता दल (सेक्युलर) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा गया होता तो परिणाम इसके बहुत उलट होते।

Mamata Banerjee

सुश्री बनर्जी ने आज टि्वटर हैंडल पर कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बधाई विजेता दल को बधाई तो दी लेकिन उन्होंने भाजपा या श्री येद्दियुरप्पा का नाम नहीं लिया। उन्होंने लिखा,” कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने वालों को बधाई, जो हारे हैं वे फिर से संघर्ष करें। यदि कांग्रेस ने जनता दल (एस) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा होता तो परिणाम इसके बहुत विपरीत होते। @ https://bit.ly/2KYMXvk 


Leave a comment

मोदी के दौरे को लेकर सजग नेपाल: काठमांडू पोस्ट

नेपाल के एक अग्रणी समाचार पत्र ने शुक्रवार को कहा कि नेपाल के लोग भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वर्ष 2014 में किए गए जोरदार स्वागत की तुलना में इसबार स्वागत में सतर्कता बरतेंगे। काठमांडू पोस्ट ने अपने संपादकीय में लिखा है, “मोदी को शायद पता है कि शुक्रवार को शुरू हुआ उनका दो दिवसीय नेपाल दौरा ‘गहरे संशय से घिरा हुआ’ है।”

Narendra Modi,

वर्ष 2014 में मोदी का स्वागत करने वाले युवा नेपालियों ने इस बार भारतीय नेता के प्रति कई मंचों पर अपनी नाखुशी जाहिर की है। नेपाल में ट्विटर पर ‘हैशटैगब्लॉकेडवाजक्राइममिस्टरमोदी’ ट्रेंड कर रहा है।पोस्ट के अनुसार, “सितंबर 2015 में, नेपाल ने अपने संविधान का निर्माण किया। नाखुश भारत ने इसके बाद पांच महीनों तक सीमा पर नाकेबंदी कर दी, क्योंकि उसका मानना था कि संविधान के निर्माण में नेपाल की तीन बड़ी पर्टियों से ‘संपर्क’ नहीं किया गया।”पोस्ट के अनुसार, “नाकेबंदी नई दिल्ली द्वारा की गई विदेश नीति की बड़ी चूक थी।” @ https://bit.ly/2rzBbig


Leave a comment

भारत में बांग्लादेश के साथ टी-20 सीरीज खेलेगा अफगानिस्तान

भारत के साथ अपने टेस्ट पदार्पण को लेकर उत्साहित अफगानिस्तान मेजबान देश की धरती पर उससे पहले बांग्लादेश के साथ तीन मैचों की टी-20 सीरीज खेलेगा। वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफों के अनुसार, अफगानिस्तान अगले महीने 14 जून से बेंगलुरु में भारत के साथ अपना पहला टेस्ट मैच खेलेगा। उससे पहले वह उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के राजीव गांधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में तीन, पांच और सात जून को तीन मैचों की टी-20 सीरीज के लिए बांग्लादेश की मेजबानी करेगा। ये सभी मैच स्थानीय समयानुसार रात आठ बजे से शुरु होंगे।

Afghanistan

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के क्रिकेट संचालन चेयरमैन अकरम खान ने कहा, ” मुझे जो रिपोर्ट मिली है उसके अनुसार, मैदान अच्छा है और वहां पर काफी सुविधाएं हैं।” बांग्लादेश और अफगानिस्तान टी-20 में अब तक केवल एक बार ही आमन-सामने हुए हैं जब 2014 में अपनी मेजबानी में हुए टी-20 विश्वकप में बांग्लादेश ने अफगानिस्तान को नौ विकेट से हराया था। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी शफीक स्तानिकजई ने कहा, ” आईसीसी रैंकिंग में अंकों के हिसाब से और 2020 में होने वाले टी-20 विश्वकप को देखते हुए ये मैच दोनों टीमों के लिए काफी अहम हैं। @ https://bit.ly/2IdUBk1