Latest Online Hindi News

Find all the latest, current & trending news related to business, sports, politics & many more only on Nayaindia ePaper. Read for the Breaking News!


Leave a comment

पूर्व विदेश सचिव जयशंकर अमेरिका के शीर्ष समूह में शामिल

अमेरिका-भारत संबंधों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर अमेरिका के एक शीर्ष एडवोकेसी ग्रुप के बोर्ड में शामिल हुए हैं। जयशंकर वर्तमान में टाटा समूह के ग्लोबल कॉरपोरेट मामलों के अध्यक्ष हैं। यूएस इंडिया स्ट्रेटेजिक ऐंड पार्टनरशिप फोरम (यूएसआईएसपीएफ) समूह ने सोमवार को जयशंकर के बोर्ड में हिस्सा बनने की घोषणा की।

S. Jaishankar

जयशंकर ने कहा, ‘‘ भारत और अमेरिका के बीच महत्वपूर्ण संबंध बनाने के लिए मैं यूएसआईएसपीएफ के निदेशक मंडल के साथ काम करने को लेकर उत्साहित हूं। टाटा समूह अमेरिका-भारत व्यावसायिक संबंधों में अग्रणी रहा है और इस संबंध को आगे बढ़ाने के लिए यूएसआईएसपीएफ एक महत्वपूर्ण मंच होगा।’’ Visit @ https://bit.ly/2PLvBnh


Leave a comment

नम अांखों से जननायक को दी भावभीनी श्रद्धाजंलि

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत विभिन्न इलाकों में शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धाजंलि देने के लिये लोगों का तांता लगा रहा। देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री के सम्मान में समूचे उत्तर प्रदेश में बैंक,शिक्षण संस्थान और सरकारी दफ्तर बंद रहे वहीं व्यापारियों ने दुकाने बंद रखकर अपने चहेते नेता को अश्रुपूरित नेत्रों से श्रद्धाजंलि अर्पित की। श्री वाजपेयी की लोकप्रियता का अंदाज यूं लगाया जा सकता है कि राज्य के अधिकांश गांव और कस्बों पर भी अजीब सा सन्नाटा पसरा रहा।

Atal Bihari Vajpayee

बाजार, हाट,चौपाल और गलियां सूनी रहीं। इस दरम्यान हर तरफ पूर्व प्रधानमंत्री से जुड़े किस्से चर्चा का विषय बने रहे। नई दिल्ली में श्री वाजपेयी की अंतिम यात्रा शुरू होते ही लोगबाग टेलीविजन चैनलों से चिपक गये जिससे सडकों पर यातायात काफी कम हो गया। कानपुर, देवरिया,इलाहाबाद,वाराणसी,आगरा,इटावा,अलीगढ,बरेली और हाथरस समेत राज्य के तमाम इलाकों में पूर्व प्रधानमंत्री के सम्मान में शोकसभाओं का आयोजन किया गया और उनके चित्र पर माल्यार्पण कर महान नेता को श्रद्धाजंलि अर्पित की गयी। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें @ https://bit.ly/2vRAKmx


Leave a comment

परमाणु हथियार समाप्त करेगा उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया ने अमेरिका के साथ एक ऐतिहासिक समझौता कर कोरियाई प्रायद्वीप से परमाणु हथियार समाप्त करने की दिशा में काम करने और दोनों देशों के बीच शांति एवं समृद्धि की प्रतिबद्धता जतायी है। सिंगापुर में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच हुई बैठक में इन समझौतों पर दोनों नेताओं ने मंगलवार को हस्ताक्षर किये। रिपोर्टों के मुताबिक उत्तर कोरिया और अमेरिका दोनों कोरियाई देशों के बीच संघर्ष के दौरान बंदी बनाये गये सैनिकों के अवशेष जुटाने पर तथा जीवित युद्ध बंदियों में जिनकी पहचान हो चुकी है उन्हें उनके देश वापस भेजने पर भी सहमत हुये हैं। समझौते में हालांकि स्पष्टता का अभाव है और विभिन्न मुद्दों की बारिकियाँ विस्तार से नहीं बतायी गयी हैं।

नेता किम जोंग उन

वहीं, ट्रंप ने कहा कि उनकी यह ऐतिहासिक बातचीत “किसी की भी कल्पना से बेहतर रही। दोनों नेताओं ने यहाँ सेंटोसा द्वीप के केपेला होटल में मुलाकात की और दोनों देशों के झंडों के सामने करीब 12 सेकेंड तक हाथ मिलाया। किम ने दुभाषिये के जरिये कहा दुनिया के कई लोग इसे किसी साइंस फिक्शन फिल्म की परिकथा समझेंगे। समझौते पर हस्ताक्षर के बाद किम की गाड़ी सीधे हवाई अड्डे के लिए रवाना हो गयी। ट्रंप एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे और उसके बाद उनके भी रवाना होने का कार्यक्रम है। @ https://bit.ly/2HGBL3T


Leave a comment

मोदी ने सिंगापुर में अमेरिका के रक्षा मंत्री से की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंगापुर में अमेरिका के रक्षा मंत्री जिम मैटिस से आज मुलाकात की। अमेरिकी सेना में भारत की महत्ता के बड़े सांकेतिक कदम के तौर पर पेंटागन द्वारा प्रशांत कमान का नाम बदलकर हिंद – प्रशांत कमान किए जाने के कुछ दिनों बाद यह मुलाकात हुई। सूत्रों ने बताया कि तीन देशों की यात्रा के आखिरी चरण में मोदी ने बंद कमरे में मैटिस से मुलाकात की जिसमें दोनों पक्षों ने आपसी और वैश्विक हितों के सभी सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा की।

US Defense Minister

वार्षिक शांग्री – ला वार्ता के इतर यह बैठक हुई। मोदी ने कल रात इसे संबोधित किया। वार्ता में अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि ‘‘प्रतिद्वंद्विता के एशिया ’’ से क्षेत्र पिछड़ जाएगा जबकि सहयोग वाले एशिया से शताब्दी का स्वरूप तय होगा। उन्होंने कहा कि जब भारत और चीन एक – दूसरे के हितों के प्रति संवेदनशील रहते हुए भरोसे और विश्वास के साथ काम करते हैं तभी एशिया और दुनिया को बेहतर भविष्य मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘‘ अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत समुद्र एवं वायु में साझा स्थलों के इस्तेमाल के लिए हम सभी के पास समान अधिकार होने चाहिए। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2kIlIcv


Leave a comment

मोदी ने नीदरलैंड के प्रधानमंत्री का स्वागत किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट का यहां स्वागत किया और कहा कि आज दिन में उनके साथ होने वाली बातचीत को लेकर वह आशान्वित हैं। प्रधानमंत्री के पिछले साल जून में नीदरलैंड के दौरे के एक साल के भीतर ही रूट का यह दौरा हुआ है।

Mark Route

मोदी ने अंग्रेजी और डच भाषा में ट्वीट किया, ‘‘ भारत आपका स्वागत करता है प्रधानमंत्री रूट। मैं आज होने वाली हमारी बातचीत को लेकर आशान्वित हूं। ’’ इससे पहले रूट ने हिन्दी में ट्वीट कर कहा था कि वह खूबसुरत भारत में आकर खुश हैं। उन्होंने ट्वीट किया , ‘‘ भारत और नीदरलैंड के बीच पिछले 70 सालों से करीबी रिश्ता रहा है जो समय के साथ मजबूत हुआ है। नरेन्द्र मोदी से मिलने को लेकर उत्सुक हूं। ’’ रूट आज दो दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे हैं। @ https://bit.ly/2sdsOcG


Leave a comment

डेटा लीक विवाद में फंसी कैब्रिज एनालिटिका होगी बंद।

डेटा लीक मामले में घिरी बिट्रेन की राजनीतिक सलाहकार कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका जल्द की अपना कामकाज बंद करने वाली है क्योंकि विवाद की वजह से उसके सभी ग्राहक उससे दूर हो गए हैं।

cambridge-analytical

डेटा लीक मामले में फेसबुक और कैंब्रिज एनालिटिका के फंसने के दो महीने से भी कम समय में यह निर्णय लिया गया है। कैंब्रिज एनालिटिका पर गलत तरीके से फेसबुक उपयोगकर्ताओं का निजी डेटा एकत्र करने का आरोप है। कैंब्रिज एनालिटिका ने किसी भी तरह का गलत काम करने से इंकार किया है। अधिक जानकारी के लिया क्लिक करे @ https://bit.ly/2w4m0mw


Leave a comment

जानिए ट्रंप की सीरिया पर आक्रामक कार्रवाई।

अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने एक सयुंक्त कार्रवाई में सीरिया के कई ठिकानों पर हमले किए। बताया जाता है कि वे ठिकाने रासायनिक हथियारों के अड्डे थे। ये हमला बीते हफ़्ते सीरियाई कस्बे दूमा में हुए संदिग्ध रासायनिक हमले की प्रतिक्रिया के रूप में किया गया। पेंटागन स्थित एक अमेरिकी अधिकारी के मुताबिक़ जिन सीरियाई ठिकानों पर हमला किया गया, उनमें शामिल हैं- दमिश्क में स्थित एक वैज्ञानिक शोध संस्थान जो कथित रूप से रासायनिक और जैविक हथियारों के उत्पादन से जुड़ा था। होम्स शहर के पश्चिमी इलाके में स्थित रासायनिक हथियारों को रखने का ठिकाना। होम्स शहर में एक अहम सैन्य ठिकाना जहां रासायनिक हथियारों से जुड़ी सामग्री को रखा जाता था।

trump

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि फ्रांस और ब्रिटेन की सशस्त्र सेनाओं के साथ एक साझा ऑपरेशन चला। इसका उद्देश्य रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल, प्रसार और उत्पादन पर अंकुश लगाना है। सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद के कृत्यों के बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा- ये किसी इंसान नहीं, बल्कि एक शैतान के अपराध हैं। उधर ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उसकी ओर से चार टोरनाडो जेट्स ने होम्स शहर के नज़दीक स्थित के सैन्य ठिकाने पर हमला किया। ऐसा माना जाता है कि इस ठिकाने पर रासायनिक हथियारों से जुड़ी सामग्री रखी जाती थी।अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें। @ https://bit.ly/2HB2ujL


Leave a comment

शहनाज हुसैन का बिजनेस मॉडल हावर्ड में पढ़ाया जाएगा

सौंदर्य विशेषज्ञ शहनाज हुसैन द्वारा विज्ञापन या प्रचार के बिना शहनाज हुसैन ब्रांड को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विकसित करने के लिए इस केस स्टडी को प्रतिष्ठित हावर्ड बिजनेस स्कूल वास्टन के पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। तो अब शहनाज हुसैन ब्रांड की सफलता की गाथा हावर्ड बिजनेस स्कूल के छात्रों को पढ़ाई जाएगी। हावर्ड बिजनेस स्कूल के प्रोफेसर सुनील गुप्ता द्वारा शहनाज हुसैन के वीडियो इंटरव्यू ‘क्रीएटिंग इमरजिंग मार्केट’ को बिजनेस स्कूल के प्रश्न-उत्तर प्रारूप में पाठ्यक्रम में सम्मिलित किया गया है। वीडियो इंटरव्यू में शहनाज हुसैन ने नियमित मार्केटिंग विज्ञापन तथा प्रचार के बिना मात्र उत्पाद की गुणवत्ता के आधार पर अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड स्थापित करने के बारे में बताया है।

shehnaz-hussain222

हावर्ड में पढ़ाए जाने के मुद्दे पर शहनाज हुसैन ने कहा कि उन्हें अपनी सफलता की कहानी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर छात्रों को पढ़ाने के लिए चयनित किए जाने से अत्यंत प्रसन्नता हुई है। उन्होंने कहा कि भारत की 3000 पुरानी सभ्यता पर आधारित आयुर्वेदिक सूत्रों को वह विश्वभर में भारत के विकास गाथा के रूप में प्रस्तुत करेंगी। वर्तमान सौंदर्य बाजार में प्रतिस्पर्धा के बावजूद शहनाज हुसैन के आयुर्वेदिक उत्पाद बिना किसी व्यापारिक विज्ञापन के उत्पादों के गुणवत्ता के आधार पर ही धड़ल्ले से मार्केट में बिक रहे हैं। 400 अंतर्राष्ट्रीय फ्रेंचाइजी तथा 600 डिस्ट्रीब्यूटरों के माध्यम से विश्व के अनेक देशों में विशुद्ध आयुर्वेदिक उत्पाद बेचे जा रहे हैं। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने वर्ष 1980 में ‘फेस्टिवल ऑफ इंडिया’ में उन्हें एंट्री प्रदान करके अंतर्राष्ट्रीय मंच प्रदान किया था। पूरा विश्व जब रासायनिक उत्पादों के हानिकारक प्रभावों से त्रस्त था उस समय शहनाज हुसैन ने भारत की प्राचीन सभ्यता पर आधारित आयुर्वेदिक उत्पादों को बाजार में उतारा जिसे पूरे विश्व में शहनाज हुसैन ब्रांड के नाम से हाथों हाथ लिया गया। अधिक जानकारी के  लिए क्लिक करें @ goo.gl/PgTTNh


Leave a comment

उबर के सीईओ ने छोड़ी ट्रंप की सलाहकार परिषद

अमेरिका की एप आधारित टैक्सी कंपनी उबर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ट्रैविस कलानिक ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सलाहकार परिषद से इस्तीफा दे दिया है। न्यूयार्क पोस्ट की खबर के मुताबिक, कलानिक ने गुरुवार को उबर कर्मचारियों को भेजे एक ईमेल में इसकी जानकारी दी। कलानिक ने कर्मचारियों को संबोधित कर कहा कि गुरुवार मेरी राष्ट्रपति से आव्रजन संबंधी कार्यकारी आदेश और इससे हमारे समुदाय के समक्ष समस्याओं पर बात हुई।

uber-300x225

कलानिक ने कहा कि मैंने उन्हें यह भी बताया कि मैं इस आर्थिक परिषद का हिस्सा नहीं बन पाऊंगा। समूह का हिस्सा बनना राष्ट्रपति या उनके एजंडे का समर्थन करना नहीं है लेकिन दुर्भाग्यवश इसे इसी संदर्भ में समझा जा रहा है। उबर के सीईओ को पिछले कुछ दिनों में ट्रंप प्रशासन के लिए काम करने की वजह से अत्यधिक आलोचना का सामना करना पड़ा है। उग्र ग्राहकों ने ‘डिलीट उबर मूवमेंट’ शुरू किया है। अधिक जानकारी के  लिए क्लिक करें @ goo.gl/Oah1Dj


Leave a comment

श्रीलंका में लागू हुआ आरटीआई कानून

भ्रष्टाचार और कुशासन से त्रस्त श्रीलंका में पारदर्शिता और सुशासन बहाल करने के उद्देश्य से आज सूचना का अधिकार (आरटीआई) कानून लागू किया गया । सरकार ने गत सप्ताह राजपत्र में आरटीआई के दायरे में आने वाले सरकारी प्राधिकरणों की श्रेणियां प्रकाशित की थीं।

sri-lanka

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल श्रीलंका चैप्टर (टीआईएसएल) के आरटीआई प्रबंधक सांखित गुणारत्ने ने कहा, आज से आम लोग जो भी सूचना चाहते हैं, उसके लिए आवेदन कर सकते हैं। सभी सूचनाओं का खुलासा तभी किया जा सकता है अगर उसके खुलासे से में लोगों का हित जुडा हो। टीआईएसएल ने कहा कि वह संबंधित सरकारी प्राधिकरणों में जनहित के कई आरटीआई आवदेनों को दायर करेगी जिसमें राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की संपत्तियों और दायित्वों की जानकारी और चुनाव आयोग से राजनीतिक दलों की वित्तीय रिपोटरें की सूचना मांगने वाला आवदेन भी शामिल है। अधिक जानकारी के  लिए क्लिक करें @ goo.gl/oixwBW