Latest Online Hindi News

Find all the latest, current & trending news related to business, sports, politics & many more only on Nayaindia ePaper. Read for the Breaking News!


Leave a comment

मेट्रो फेज-4 को मंजूरी नहीं दे रहे केजरीवाल: भाजपा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को मेट्रो रेल परियोजना के चौथे चरण के निर्माण कार्य को मंजूरी नहीं देने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला बोला।

Delhi BJP President Manoj Tiwari PC

भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा, “बीते ढाई सालों से केजरीवाल सरकार ने दिल्ली मेट्रो के चौथे चरण के निर्माण को मंजूरी नहीं दी है।”उन्होंने कहा कि अगर रेल परियोजना के चौथे चरण के निर्माण के लिए एक हफ्ते के भीतर अनुमति नहीं मिली तो मशीन व औजार वापस लौट जाएंगे।

मनोज तिवारी ने कहा कि इससे परियोजना में देरी होगी और लागत बढ़ेगी।दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के चौथे चरण में 104 किमी के छह कॉरिडोर का निर्माण होना है।इस संयुक्त उद्यम में डीएमआरसी, केंद्र व दिल्ली सरकार के साथ बराबर की साझेदार है। Visit @ https://bit.ly/2Envm15


Leave a comment

उत्तर प्रदेश भाजपा में भी हैं संकट

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी नेताओं की आपसी कलह से परेशान हैं। एक तरफ कई नेता राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार से परेशान हैं तो दूसरी ओर कई नेताओं को स्थानीय स्तर पर घमासान चल रहा है। पिछले दिनों पार्टी के आधा दर्जन से ज्यादा दलित सांसदों ने तेवर दिखाए थे। तब तो उनको समझा बूझा कर चुप करा दिया गया था पर माना जा रहा है कि अंदरखाने उनकी नाराजगी कायम है और वे पार्टी को बड़ा झटका दे सकते हैं। इनमें से कुछ सांसद पाला बदलने की तैयारी भी कर रहे हैं क्योंकि उनको लग रहा है कि शायद अगली बार भाजपा उनको टिकट नहीं देगी।

Uttar Pradesh

इस बीच यह भी खबर है कि भाजपा के कई सांसदों को स्थानीय विधायकों या पार्टी नेताओं की नाराजगी झेलनी पड़ रही है। भाजपा की एक सांसद प्रियंका रावत अपने तीखे तेवरों के लिए मशहूर हैं। खबर है कि उनकी अपने इलाके के विधायकों से नहीं बन रही है। इसी तरह फैजाबाद के सांसद लल्लू सिंह के लिए भी कहा जा रहा है कि उनसे भी पार्टी के विधायक और जिला कमेटी के नेता नाराज चल रहे हैं। भाजपा के एक सांसद वीरेंद्र सिंह हैं उनकी भी शिकायत कई नेताओं ने पार्टी आलाकमान तक पहुंचाई है। भाजपा के एक जानकार नेता का कहना है कि अनेक सांसदों को यह अंदाजा हो गया है कि उनकी टिकट कट सकती है, इसलिए वे अपनी पोजिशनिंग में लगे हैं। भाजपा के कई नेता सपा, बसपा और कांग्रेस के संपर्क में हैं।  Visit @ https://bit.ly/2Otiprd


Leave a comment

भाजपा को 2019 में तगड़ा झटका’: शिवसेना

शिवसेना ने गुरुवार को भविष्यवाणी की कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को 2019 लोकसभा चुनाव में ‘नोटबंदी जैसा झटका’ लगेगा। शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र ‘दोपहर का सामना’ के संपादकीय में कहा, “अब से ‘जुमलों’ का गुलदस्ता मुरझा जाएगा।

Shiv Sena

पार्टी ने कहा कि ‘लगभग सभी राज्यों में चुनावी हवा विपक्षी गठबंधन के पक्ष में बह रही है और पिछले डेढ़ साल से लोगों ने अपना मन बना लिया है कि वे भाजपा को एक तगड़ा झटका देंगे।’शिवसेना ने कहा, “कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश में गठबंधन से दिल्ली जाने वाले मार्ग पर एक बड़ी बाधा आ गई है। ऐसी ही खबरें बिहार से भी हैं जहां कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल अन्य दलों के साथ मिलकर गठबंधन बना रहे हैं। केंद्र में सत्ता परिवर्तन के मजबूत संकेत दिखाई दे रहे हैं।”  अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें  @ https://bit.ly/2O7JHPl


Leave a comment

शत्रुघ्न सिन्हा को कितनी पार्टियों का ऑफर!

मशहूर फिल्म अभिनेता और पटना साहिब सीट से भाजपा के सासंद शत्रुघ्न सिन्हा को इस बार भाजपा की टिकट नहीं मिलेगी। पर वे उसकी परवाह नहीं कर रहे हैं। इसका कारण यह है कि उनको देश के अलग अलग राज्यों में अलग अलग पार्टियों से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव मिल रहा है। वे खुद ही तय नहीं कर पा रहे हैं वे कि पटना साहिब की अपनी पारंपरिक सीट से चुनाव लड़ें या पश्चिम बंगाल जाएं, दिल्ली जाएं या अपनी कर्मभूमि मुंबई जाकर चुनाव लड़ें।

Shatrughan Sinha

वैसे शत्रुघ्न सिन्हा पहले नई दिल्ली सीट से कांग्रेस के राजेश खन्ना के खिलाफ चुनाव लड़ चुके हैं। पर वे जीते नहीं थे। इस बार कहा जा रहा है कि दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी उनको उत्तर पश्चिमी दिल्ली सीट से लड़ने का प्रस्ताव दे रही है। भाजपा के मनोज तिवारी इस सीट से सांसद हैं। इस इलाके में पूर्वांचल के लोगों की बड़ी संख्या है। माना जा रहा है कि अगर सिन्हा आप के उम्मीदवार हुए तो उसे बड़ा फायदा होगा। इस बात की भी चर्चा है कि मनोज तिवारी शायद इस सीट से चुनाव नहीं लड़ेंगे। उनके बिहार या यूपी की किसी सीट से लड़ने की चर्चा है।  अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2zhArWe


Leave a comment

भाजपा बन रही है बंगाल में मुख्य विपक्षी!

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों में भारतीय जनता पार्टी दूसरे स्थान पर रही है। हालांकि वह पहले स्थान पर रही तृणमूल कांग्रेस से काफी पीछे है पर उसने कांग्रेस और सीपीएम को बहुत पीछे छोड़ दिया है। अगर तृणमूल के 20 हजार से ज्यादा प्रतिनिधि जीते हैं तो भाजपा के भी पांच हजार से ज्यादा प्रतिनिधि चुनाव जीते हैं। पर कांग्रेस और सीपीएम दोनों दो हजार का आंकड़ा भी नहीं पार कर पाए। यह एक तरह से पड़ोसी राज्य ओड़िशा के पंचायत चुनावों का दोहराव है। वहां भी कांग्रेस को पीछे छोड़ कर भाजपा दूसरे स्थान पर रही। वहां हालांकि बीजू जनता दल से भाजपा का मुकाबला ज्यादा करीबी रहा।

BJP

इससे पहले दो विधानसभा सीटों के उपचुनाव में भी भाजपा ने बहुत शानदार प्रदर्शन किया था और दूसरे स्थान पर रही थी। इस साल जनवरी में पश्चिम बंगाल में उलूबेरिया लोकसभा सीट और नोआपाड़ा विधानसभा सीट के उपचुनाव हुए थे। दोनों सीटों पर तृणमूल कांग्रेस जीती और भाजपा दूसरे स्थान पर रही। सुल्तान अहमद के निधन से खाली हुई उलूबेरिया लोकसभा सीट पर भाजपा को दो लाख 90 हजार वोट मिले, जबकि तीसरे स्थान पर रही सीपीएम को एक लाख 30 हजार वोट मिले। कांग्रेस को सिर्फ 23 हजार वोट मिले और उसके उम्मीदवार की जमानत जब्त हो गई। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें @ https://bit.ly/2rTwBwb


Leave a comment

कर्नाटक में भाजपा का घोषणापत्र ‘झूठ का पुलिंदा’: कांग्रेस

कांग्रेस ने आज कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा की ओर से जारी घोषणापत्र को ‘ जुमलाफेस्टो ’ करार दिया और कहा कि जनता ‘ झूठ के इस पुलिंदे ’ पर विश्वास नहीं करने वाली है। भाजपा का घोषणापत्र जारी होने के कुछ देर बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि कर्नाटक में भाजपा का घोषणापत्र 2014 के मोदी के घोषणापत्र और ‘येदि-रेड्डी के 2018 के घोषणापत्र’ का मिश्रण है।

Karnataka assembly election

गौरतलब है कि कांग्रेस भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बी एस येदियुरप्पा और रेड्डी बंधुओं का हवाला देने के लिए ‘येदि-रेड्डी’ शब्दावली का इस्तेमाल करती है। सुरेजावाला ने आरोप लगाया, ‘‘यह ‘जुमलाफेस्टो’ है और झूठ का पुलिंदा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘न वचन की कीमत, न शब्दों पर यकीन, हारी हुई भाजपा की खिसकती जमीन।’’ भाजपा ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए आज घोषणापत्र जारी किया। पार्टी ने प्रदेश में सरकार बनने के पर सिंचाई परियोजनाओं के मद में डेढ़ लाख करोड़ रुपये आवंटित करने और राष्ट्रीयकृत एवं सहकारी बैंकों से लिये गए एक लाख रुपये तक के कृषि ऋण माफ करने का वादा किया। @ https://bit.ly/2JQ3WP5