Latest Online Hindi News

Find all the latest, current & trending news related to business, sports, politics & many more only on Nayaindia ePaper. Read for the Breaking News!


Leave a comment

जीएसटी-नोटबंदी का प्रभाव: धनतेरस पर फीका रहेगा सोना कारोबार

जीएसटी के कारण इस धनतेरस में आभूषण बाजार की चमक फीकी पड़ सकती है। बाजार विशेषज्ञों के मुताबिक, जीएसटी को लेकर दुविधा बने रहने के कारण इस धनतेरस आभूषण उद्योग की चमक पिछले साल के मुकाबले थोड़ी फीकी रह सकती है। हालांकि, कारोबारियों की ओर से ग्राहकों को लुभाने के लिए छूट और मुफ्त उपहार की पेशकश की जा रही है।

Gst

इंडिया बुलियन और ज्वैलर्स एसोसिएशन के निदेशक सौरभ गाडगिल ने बताया, बाजार की धारणा में सुधार हो रहा है, लेकिन अभी तक इसमें ज्यादा उत्साह नहीं दिखाई दे रहा है। अगर इस साल कुल कारोबार पिछले साल के बराबर या 5 प्रतिशत ऊपर रहता है तो हमें बहुत खुशी होगी। सौरभ पीएनजी ज्वैलर्स के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक भी हैं।

उन्होंने आगे कहा कि त्योहारी मौसम में कीमती धातुओं में तेज खरीददारी देखने को मिलती है, लेकिन वेतन में विलंब, उम्मीद से कम बोनस, धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) से जौहरियों को हटाने के मामले में स्पष्टता की कमी जैसे प्रमुख मुद्दों के कारण इस धनतेरस और दिवाली पर बाजार की धारणा को धक्का लगा है। इसके साथ ही अर्थव्यवस्था में मंदी ने भी बाजार को प्रभावित किया है। क्लिक करें @ https://goo.gl/EBymNq

Advertisements


Leave a comment

रिलायंस कमर्शियल फाइनेंस, आईआरईडीए के बीच करार

रिलायंस कमर्शियल फाइनेंस ने सोमवार को कहा कि उसने 300 करोड़ रुपए के ऋण के लिए इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट (आईआरईडीए) कंपनी के साथ एक समझौता किया है। कंपनी ने जारी एक बयान में कहा कि आईआरईडीए से मिलने वाले ऋण का इस्तेमाल नवीकरणीय ऊर्जा और ऊर्जा संबंधित परियोजनाओं में किया जाएगा।

Relience capital

रिलायंस कमर्शियल फाइनेंस कंपनी रिलायंस कैपिटल की सहायक कंपनी है। जबकि आईआरईडीए नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के अधीन सार्वजनिक क्षेत्र का एक उपक्रम है। रिलायंस कमर्शियल फाइनेंस के कार्यकारी निदेशक और सीईओ देवांग मोदी ने कहा, ‘रिलायंस कमर्शियल फाइनेंस पहले ही नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में एक लोकप्रिय नाम है। आईआरईडीए के साथ हमारी साझेदारी से नवीकरणीय क्षेत्र में नए अवसर उपलब्ध होंगे।‘ @ https://goo.gl/N55ceG


Leave a comment

रिजर्व बैंक ने नहीं घटाई ब्याज दर

भारतीय रिजर्व बैंक ने एक बार फिर केंद्र सरकार, उद्योग जगत और आम लोगों को निराश किया है। केंद्रीय बैंक ने नीतिगत ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। इसलिए कर्ज सस्ता होने की उम्मीद कर रहे लोगों को इसके लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। आरबीआई ने मौद्रिक नीति की दोमासिक समीक्षा में ब्याज दरों को पहले की तरह ही रखने का फैसला किया।

repo rate

बैंक की ओर से कहा गया है कि दुनिया भर में चल रहे घटनाक्रम और भारत में महंगाई बढ़ने की आशंका को देखते हुए उसने नीतिगत ब्याज दरों में कमी नहीं करने का फैसला किया है। बैंक ने महंगाई दर के अनुमान में भी बढ़ोतरी की है। बैंक के इस कदम से आवास और वाहन कर्ज सस्ता होने की उम्मीद कर रहे लोगों को निराशा हुई है।

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने दो दिन की बैठक के बाद यहां बहुमत के आधार पर नीतिगत दरों को यथावत बनाए रखने का फैसला किया। समिति के छह में से पांच सदस्यों ने नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं करने के पक्ष में मतदान किया, जबकि एक सदस्य डॉक्टर रवींद्र एच ढोलकिया ने इन दरों में एक चौथाई फीसदी की कमी किए जाने का समर्थन किया। @ http://bit.ly/2geeg7r


Leave a comment

विप्रो डिजिटल कूपर का 85 लाख डॉलर में अधिग्रहण करेगी

आईटी कंपनी विप्रो की डिजिटल इकाई विप्रो डिजिटल डिजाइन और कारोबारी रणनीति सलाहकार कंपनी कूपर का 85 लाख डॉलर (करीब 55.4 करोड़ रुपए) में अधिग्रहण करेगी। एक बयान में कहा गया है कि अमेरिका की कूपर अधिग्रहण के बाद डिजाइनिट का हिस्सा बनेगी। इससे विप्रो की डिजाइन और नवोन्मेषण क्षमता बढ़ेगी।

wipro

यह सौदा चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में पूरा होने की उम्मीद है। इसके लिए जरूरी नियामकीय मंजूरियां ली जाएंगी। विप्रो ने कहा कि इस सौदे से उत्तरी अमेरिका में कंपनी की पहुंच का विस्तार होगा। साथ ही पेशेवर डिजाइन शिक्षा क्षमता बढ़ेगी। @ http://bit.ly/2yJnnDQ


Leave a comment

ट्राई ने आईयूसी खत्म किया, मोबाइल बिल होगा कम

दूरसंचार नियामक ट्राई ने आज मोबाइल इंटरक्नेक्शन उपयोग शुल्क (आईयूसी) को 14 पैसे से घटाकर छह पैसे प्रति मिनट कर दिया। मोबाइल कंपनियां अगर इस कटौती का फायदा ग्राहकों को देती हैं तो काल दरें घटने की राह खुल सकती है।

नियामक के इस कदम का फायदा नयी कंपनी रिलायंस जियो को मिलने की उम्मीद है। वहीं मोबाइल कंपनियों के संगठन सीओएआई ने इस फैसले को ‘अनर्थकारी’ करार देते हुए कहा है कि इसके खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया जा सकता है।

tri

ट्राई ने कहा है कि छह पैसे प्रति मिनट का नया काल टर्मिनेशन शुल्क एक अक्तूबर 2017 से प्रभावी होगा और एक जनवरी 2020 से इसे पूरी तरह से समाप्त कर दिया जाएगा। नियामक ने अपने बयान में कहा है कि उसने यह फैसला भागीदारों से मिली राय के आधार पर किया है। @ https://goo.gl/5JJb1C


Leave a comment

कैसी है गूगल की मोबाइल पेमेंट एप ‘तेज’, क्या है खास!

सोमवार को सर्च इंजन कंपनी गूगल ने भारत में अपनी मोबाइल भुगतान सेवा तेज शुरू की। कंपनी ने देश में डिजिटल भुगतान में बढ़ती संभावनाओं के उपयोग और फायदे के लिए यह कदम उठाया है।

भारत के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कंपनी के इस एप की शुरुआत की है। वहीं भारत में बढ़ती डिजिटल भुगतान संभावनाओं के बीच व्हाट्सएप और फेसबुक भी पेमेंट एप शुरू करने के पर काम कर रहे हैं।

google payment app

यूपीआई भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) की ओर से लांच की गई भुगतान प्रणाली है जिसे भारतीय रिजर्व बैंक नियंत्रित करती है। इसके सहयोग से मोबाइल के माध्यम से दो बैंक खातों के बीच तत्काल फंड ट्रांसफर किया जा सकता है। भारत के बढ़ते डिजिटल भुगतान प्रणाली में वाट्स एप भी अपना पांव पसारने की तैयारी कर रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अग्रणी मेसैजिंग एप की पहले से ही एनपीसीआई के साथ बात चल रही है और कुछ बैंक यूपीआई के माध्यम से वित्तीय ट्रांजेक्शन की सहायता पहुंचाने के लिए भी तैयार हैं। @ http://bit.ly/2xaYLUX


Leave a comment

अस्ताना एक्सपो में भारत का जलवा

दुनिया को प्रदूषणमुक्त बनाने के लिए वैकल्पिक ऊर्जा पर केंद्रित यहां चल रहे अंतरराष्ट्रीय मेले में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत की उपलब्धियों को दर्शाता देश का मंडप मुख्य आकर्षण का केंद्र बन गया है और दर्शकों की संख्या के हिसाब से यह शीर्ष पांच देशों में शुमार है। भारतीय मंडप में रोजाना 10 से 12 हजार दर्शक आ रहे हैं।

expo

सोवियत संघ से अलग होने के बाद बने कजाकिस्तान की नयी -नवेली राजधानी अस्ताना में 10 जून से 10 सितंबर तक चलने वाले ‘अस्ताना एक्सपो -2017’ में कजाकिस्तान पहले तथा चीन दूसरे और भारत तीसरे स्थान पर है। भारतीय मंडप में रोजाना 10 से 12 हजार दर्शक आ रहे हैं। ‘भविष्य की ऊर्जा ’थीम पर आयोजित मेले में 115 देश और करीब 22 अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं ने मल्टी मीडिया के जरिए स्वच्छ ऊर्जा की नयी प्रौद्योगिकियों और अपनी -अपनी उपलब्धियों का आकर्षक नमूना पेश किया है।

भारतीय मंडप में पूरी तरह से सौर ऊर्जा से चलने वाले कोचीन हवाई अड्डे को दर्शाया गया है जो दुनिया में इस तरह का पहला हवाईअड्डा है।‘मेक इन इंडिया’ के लोगों के जरिए स्वदेशी तकनीक से निर्मित सस्ती ऊर्जा प्रणालियों के विभिन्न नमूने पेश किए गए हैं। इनमें बायोमास ऊर्जा की दक्षता बढाने वाली भारत द्वारा विकसित द्विचरणीय गैसीफायर प्रणाली ,छोटे घरों को रोशन करने के लिए छोटे गुंबद वाली सौर प्रणाली,सौर ऊर्जा से चलने वाला इनवर्टर आदि शामिल है। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें @ http://bit.ly/2vSCSfu