Latest Online Hindi News

Find all the latest, current & trending news related to business, sports, politics & many more only on Nayaindia ePaper. Read for the Breaking News!


Leave a comment

जियो इंस्टीट्यूट’ के लिए सरकार की घेराबंदी

रिलायंस के प्रस्तावित जियो इंस्टीट्यूट को केन्द्र सरकार द्वारा देश के छह प्रतिष्ठित संस्थानों की सूची में शामिल किए जाने को विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अंबानी बंधुओं से करीबी रिश्तों का परिणाम बताया है। माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने जियो संस्थान को देश को प्रतिष्ठित संस्थानों की सूची में डालने की तुलना उद्योगपतियों की कर्ज माफी से की।

Reliance Jio Institute

येचुरी ने ट्वीट कर कहा ‘‘अब तक वजूद में ही नहीं आये विश्वविद्यालय को प्रतिष्ठित संस्थान का तमगा देना कार्पोरेट जगत के तीन लाख करोड़ रुपये के गैरनिष्पादित कर्ज की तरह है जिसे सरकार ने चार साल में उद्योगपतियों से अपनी मित्रता निभाने के एवज में बट्टेखाते में डाल दिया।’’ सपा ने सरकार के इस फैसले को अंबानी बंधुओं से मोदी की नजदीकी का परिणाम बताया। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2N4jNeI

Advertisements


Leave a comment

शत्रुघ्न सिन्हा को कितनी पार्टियों का ऑफर!

मशहूर फिल्म अभिनेता और पटना साहिब सीट से भाजपा के सासंद शत्रुघ्न सिन्हा को इस बार भाजपा की टिकट नहीं मिलेगी। पर वे उसकी परवाह नहीं कर रहे हैं। इसका कारण यह है कि उनको देश के अलग अलग राज्यों में अलग अलग पार्टियों से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव मिल रहा है। वे खुद ही तय नहीं कर पा रहे हैं वे कि पटना साहिब की अपनी पारंपरिक सीट से चुनाव लड़ें या पश्चिम बंगाल जाएं, दिल्ली जाएं या अपनी कर्मभूमि मुंबई जाकर चुनाव लड़ें।

Shatrughan Sinha

वैसे शत्रुघ्न सिन्हा पहले नई दिल्ली सीट से कांग्रेस के राजेश खन्ना के खिलाफ चुनाव लड़ चुके हैं। पर वे जीते नहीं थे। इस बार कहा जा रहा है कि दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी उनको उत्तर पश्चिमी दिल्ली सीट से लड़ने का प्रस्ताव दे रही है। भाजपा के मनोज तिवारी इस सीट से सांसद हैं। इस इलाके में पूर्वांचल के लोगों की बड़ी संख्या है। माना जा रहा है कि अगर सिन्हा आप के उम्मीदवार हुए तो उसे बड़ा फायदा होगा। इस बात की भी चर्चा है कि मनोज तिवारी शायद इस सीट से चुनाव नहीं लड़ेंगे। उनके बिहार या यूपी की किसी सीट से लड़ने की चर्चा है।  अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2zhArWe


Leave a comment

स्टार्टअप के लिए पूंजी, नियम आसान किए हैं सरकार ने : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी सरकार युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करने हेतु बहुत से कमद उठा रही हैं और अब नवोन्मेषी सोच के साथ शुरू किए जाने वाले स्टार्टअप उद्यमों का प्रसार केवल बड़े शहरों तक सीमित नहीं है।

Narendra Modi

प्रधानमंत्री ने आज देशभर के युवा उद्यमियों के साथ संवाद के दौरान कहा कि छोटे शहर और गांव भी स्टार्टअप केंद्रों के रूप में उभर रहे हैं। इस चर्चा में देहरादूर, रायपुर और गुवाहाटी जैसे शहरों के युवा उद्यमियों ने भी भाग लिया। मोदी ने कहा कि स्टार्टअप के लिए ‘ मेक इन इंडिया ‘ के साथ ‘ डिजाइन इन इंडिया ‘ भी बहुत आवश्यक है। इस क्षेत्र में आगे निकलने के लिए पर्याप्त पूंजी , साहस और लोगों से संपर्क जरूरी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि एक समय था जब स्टार्टअप केवल डिजीटल और तकनीकी नवोन्मेष के क्षेत्र तक सीमित था। अब चीजें बदल रही हैं और हम देख रहे हैं कि कृषि समेत अन्य क्षेत्रों में स्टॉटअप आ रहे हैं। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2sLYIwW


Leave a comment

मोदी ने सिंगापुर में अमेरिका के रक्षा मंत्री से की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंगापुर में अमेरिका के रक्षा मंत्री जिम मैटिस से आज मुलाकात की। अमेरिकी सेना में भारत की महत्ता के बड़े सांकेतिक कदम के तौर पर पेंटागन द्वारा प्रशांत कमान का नाम बदलकर हिंद – प्रशांत कमान किए जाने के कुछ दिनों बाद यह मुलाकात हुई। सूत्रों ने बताया कि तीन देशों की यात्रा के आखिरी चरण में मोदी ने बंद कमरे में मैटिस से मुलाकात की जिसमें दोनों पक्षों ने आपसी और वैश्विक हितों के सभी सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा की।

US Defense Minister

वार्षिक शांग्री – ला वार्ता के इतर यह बैठक हुई। मोदी ने कल रात इसे संबोधित किया। वार्ता में अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि ‘‘प्रतिद्वंद्विता के एशिया ’’ से क्षेत्र पिछड़ जाएगा जबकि सहयोग वाले एशिया से शताब्दी का स्वरूप तय होगा। उन्होंने कहा कि जब भारत और चीन एक – दूसरे के हितों के प्रति संवेदनशील रहते हुए भरोसे और विश्वास के साथ काम करते हैं तभी एशिया और दुनिया को बेहतर भविष्य मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘‘ अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत समुद्र एवं वायु में साझा स्थलों के इस्तेमाल के लिए हम सभी के पास समान अधिकार होने चाहिए। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें । @ https://bit.ly/2kIlIcv


Leave a comment

कर्नाटक का सबसे खर्चीला चुनाव!

कर्नाटक के इस बार के विधानसभा चुनाव में खर्च के सारे रिकार्ड टूट गए हैं। पिछली बार के मुकाबले इस बार कर्नाटक में दोगुने से ज्यादा खर्च हुआ है। यह भी हैरान करने वाला तथ्य है कि पार्टियों के मुकाबले उम्मीदवारों ने इस बार ज्यादा रुपए लुटाए हैं। यह ज्यादा हैरान करने वाला इसलिए है क्योंकि अभी तक देश के कई हिस्सों में लोग नोटबंदी का असर झेल रहे हैं और दूसरे, चुनाव प्रचार के दौरान दो सौ करोड़ रुपए के करीब की जब्ती हुई है।

election

एक गैर सरकारी संस्था के आकलन के मुताबिक इस बार कर्नाटक विधानसभा चुनाव में दस हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च हुआ है। यानी प्रति विधानसभा 50 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च हुआ है। 2013 के विधानसभा चुनाव में करीब पांच हजार करोड़ रुपया खर्च हुआ था। नोटबंदी और काले धन को खत्म कर देने के दावे के बावजूद इस साल खर्च दोगुना होकर दस हजार करोड़ रुपए तक पहुंच गया। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें। @ https://bit.ly/2rMaIxX


Leave a comment

कर्नाटक चुनाव में जीत के लिए भाजपा को बधाई: ममता

तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उसके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बी एस येद्दियुरप्पा को बधाई दी है लेकिन इसके साथ ही कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा है कि यदि जनता दल (सेक्युलर) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा गया होता तो परिणाम इसके बहुत उलट होते।

Mamata Banerjee

सुश्री बनर्जी ने आज टि्वटर हैंडल पर कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बधाई विजेता दल को बधाई तो दी लेकिन उन्होंने भाजपा या श्री येद्दियुरप्पा का नाम नहीं लिया। उन्होंने लिखा,” कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने वालों को बधाई, जो हारे हैं वे फिर से संघर्ष करें। यदि कांग्रेस ने जनता दल (एस) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा होता तो परिणाम इसके बहुत विपरीत होते। @ https://bit.ly/2KYMXvk 


Leave a comment

मोदी के दौरे को लेकर सजग नेपाल: काठमांडू पोस्ट

नेपाल के एक अग्रणी समाचार पत्र ने शुक्रवार को कहा कि नेपाल के लोग भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वर्ष 2014 में किए गए जोरदार स्वागत की तुलना में इसबार स्वागत में सतर्कता बरतेंगे। काठमांडू पोस्ट ने अपने संपादकीय में लिखा है, “मोदी को शायद पता है कि शुक्रवार को शुरू हुआ उनका दो दिवसीय नेपाल दौरा ‘गहरे संशय से घिरा हुआ’ है।”

Narendra Modi,

वर्ष 2014 में मोदी का स्वागत करने वाले युवा नेपालियों ने इस बार भारतीय नेता के प्रति कई मंचों पर अपनी नाखुशी जाहिर की है। नेपाल में ट्विटर पर ‘हैशटैगब्लॉकेडवाजक्राइममिस्टरमोदी’ ट्रेंड कर रहा है।पोस्ट के अनुसार, “सितंबर 2015 में, नेपाल ने अपने संविधान का निर्माण किया। नाखुश भारत ने इसके बाद पांच महीनों तक सीमा पर नाकेबंदी कर दी, क्योंकि उसका मानना था कि संविधान के निर्माण में नेपाल की तीन बड़ी पर्टियों से ‘संपर्क’ नहीं किया गया।”पोस्ट के अनुसार, “नाकेबंदी नई दिल्ली द्वारा की गई विदेश नीति की बड़ी चूक थी।” @ https://bit.ly/2rzBbig